Tera Yar Hoon Main – खजुराहों में मम्मी पापा और मेरी चुदाई 2

Tera Yar Hoon Main

मैं आपके सामने फिर एक कहानी लेकर हाजिर हूं. मैं खजुराहों में मम्मी पापा और मेरी चुदाई 1 में आपने पढ़ा कि खजुराहो में पापा ने कैसे मेरे सामने मेरे मम्मी की जमकर चुदाई की. उस दिन के बाद मेरे और मेरे पापा मम्मी के भी शर्म हया खत्म हो गई पापा रोज मेरे सामने ही मम्मी की चुदाई करते थे. अब मैं भी उनके साथ एक ही कमरे में सोता था पापा रोज रोज अलग-अलग आसन से मम्मी की चूत मारते थे. Tera Yar Hoon Main.

और उसके बाद मम्मी की गांड चुदाई भी खूब करते थे मैं यह सब देखता रहता था. और मुठ मारना मेरी मजबूरी थी इसके अलावा मेरे पास कोई चारा नहीं था. मैंने पापा का लंड छू कर देखा और चूसा भी और मम्मी की चूत में उंगली डाली पास से देखा और चूत चाटी की लेकिन मेरा लंड प्यासा ही रह गया! ये बात मेरे पापा भी अच्छी तरह से जानते थे कि मुझे चुदाई करने की बहुत तड़प हो रही है.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : Khoobsurat Sali Ko Pelne Ka Khwab Poora Ho Gaya

जल्द ही मुझे चुदाई करने का मौका मिल गया मम्मी कुछ दिनों के लिए मामा के घर गई तो पापा और मैं घर पर अकेला रह गया. पापा को तो मम्मी की रोज चूत मारने की आदत थी इसलिए उन्हें रात को नींद नहीं आती थी. रात मे पापा का लंड हिलाता था पापा मेरा लण्ड पकडते हम दोनों एक दूसरे की मत मार देते थी कभी-कभी मैं पापा का लंड मुंह में चूस लेता था तो कभी पापा मेरा लंड चूस लेते थे!

एक दिन जब मैं कॉलेज से घर आया तो देखा घर का मेन गेट खुला है दरवाजा अंदर अटका था. मैं गेट खोल कर अंदर गया तो मुझे कोई दिखाई नहीं दिया है मैं सीधे बेडरूम में गया गेट खोल कर देखा तो पापा पड़ोस वाली आंटी की चुदाई कर रहे. पापा और वह आंटी बिल्कुल नंगी थे पापा ने आंटी को घोड़ी बना रखा था और वह आंटी की चूत मार रहे थे.

अचानक मुझे देखकर दोनों हड़बड़ा गए आंटी एक कोने में खड़ी हो गई और उन्होंने अपनी चूत दोनों हाथों से छिपा ली. पापा बोले बेटे तू कब आ गया मैंने कहा अभी आया हूं पापा कुछ ना बोले और आंटी के पास पहुंच गए उन्होंने आंटी को पीछे से पकड़ लिया. और आंटी के दोनों हाथ उनकी चूत से हटा दीजिए कहने लगे कोई बात नहीं है मेरा बेटा सब कुछ जानता है मैं उसके सामने तेरी चुदाई कर सकता हूं.

चुदाई की गरम देसी कहानी : Nanngi Hui Mummy Virya Chat Rahi Thi Uncle Ka 2

पापा ने आंटी को पलंग पर लिटा दिया और उनके ऊपर सवार हो गए उन्होंने आंटी की चूत में अपना लंड डाल दिया. और अपने दोनों हाथों से आंटी के दूध दबाने लगे और होठों से आंटी के होठो का रस पीने लगे. आंटी ने मना करना चाहा लेकिन पापा के सामने उनकी एक न चली कमरे में चुदाई का खुला खेल देखकर मैं भी बेकाबू हो गया. मैंने अपने कपडे उतार डाले और बिल्कुल नंगा हो गया.

मैं अपना लंड मसलने लगा, 15 मिनट चुदाई करने के बाद पापा आंटी की चूत में ही झर गए पापा मम्मी की तरह आंटी के बगल में नंगे ही लेट गए. मैंने पापा को आंख दबाकर इशारा किया कि मुझे भी चूत मारना है पापा समझ गए उन्होंने भी आँख दबा कर मुझे आंटी के बगल में लेटने का इशारा किया. मैं आंटी के बाद में जाकर नंगा लेट गया आंटी जैसे ही उठकर जाने लगी मैंने आंटी को पकड़ लिया.

पापा ने भी आंटी से कहा अब मेरा बेटा तेरी चुदाई करेगा, आंटी बोली यह क्या कह रहे हो पापा बोले मैं अपने बेटे को सेक्स का ज्ञान दे रहा हूं. सब कुछ तो वह सीख लिया अब उसको सिर्फ चुदाई का प्रैक्टिकल ज्ञान देना ही बाकी रह गया है. आंटी मना करने लगी लेकिन पापा ने आंटी को पकड़ लिया और उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. मैंने आंटी की दोनों जाने फैलाकर उनकी चूत में अपना मुंह डालकर चूत चाटना शुरू कर दिया.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Pyar Se Didi Ki Bra Utar Kar Chucho Ko Khoob Dabaya

आंटी की चूत पापा के वीर्य थे भरी थी मैंने पापा का भी पुरा वीर्य भारी आंटी की चूत चाट आ रहा. पापा आंटी के होठों का रस पीते आंटी के दूध दबाते हैं थोड़ी देर में आंटी भी मस्त हो गई और उन्होंने हम दोनों का सहयोग करना शुरू कर दिया. 15 मिनट तक खेलेने के बाद पापा अलग हो गए और मैंने अपने लंड पर थोड़ा सा तेल लगाया. और आंटी की दोनों की जांघों के बीच में बैठ गया और एक ही झटके में अपना लंबा और मोटा लंड आंटी की चूत में डाल दिया.

मेरा लंड भी पापा की तरह मेरा लण्ड भी साढे सात लंबा और 5 इंच पापा से भी बड़ा और मोटा था. मेरे इतने बड़े लंड को चूत में लेने से आंटी को दर्द हो रहा था लेकिन मैंने आंटी को नहीं छोड़ा और उनके ऊपर सवार हो गया. मैंने आंटी के होठों पर अपने होंठ रख दिए और पापा की तरह उनके दूध दबाना शुरू कर दिया. थोड़ी देर में आंटी गांड उठाकर उठा कर चुदाई का मजा लेने मैंने आंटी की जमकर चुदाई की.

और 15 मिनट बाद उनकी चूत मे ही अपना माल पानी छोड़ दिया कमरे में हम तीनों ही नंगे आसपास लेट गए! आधा घंटा बाद पापा और मेरा लंड फिर जोश मारने लगा तो पापा ने आंटी को घोड़ी बनाकर उनकी गांड मारना चाहा. तो आंटी मना करने लगी कहने लगी पीछे की नहीं करवाना बहुत दर्द होता है. मैंने पापा को इशारा किया पापा ने आंटी को आगे से पकड़ लिया और मैंने आंटी की गांड में सोपरामाईसिन कीम उंगली डालकर लगा दी.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Meri Sex Ki Chahat Mummy Ne Poori Ki

थोड़ी देर में ही आंटी की गांड मुलायम हो गई आंटी पापा का हाथ छुड़ाकर कमरे से बाहर जाने लगी. तो मैंने आंटी को धमकी दी कि मैं आपके पति को सब कुछ बता दूंगा और मैंने आपकी फिल्म भी बना ली है तो आंटी नरम पड़ गई. मैंने आंटी को गोद में उठाकर पलंग पर उल्टा लिटा दिया और अपने लंड पर थोड़ी सी सोफ्रामायसिन क्रीम लगाई और एक ही झटके में अपना पूरा लंड आंटी की गांड में डाल दिया. “Tera Yar Hoon Main”

आंटी के मुंह से चीख निकल गई उनकी आंख में आंसू आ गए मुझे छोड़ दो. थोड़ी देर आंटी की गांड में लण्ड कर चुपचाप लेटा रहा पापा ने अपना लण्ड आंटी के मुंह में डाल दिया. मैंने पहली बार किसी की चूत मारी थी तो मुझे बहुत मजा आया. लेकिन आंटी की चूत थोड़ी ढीली पड़ गई थी क्योंकि उनके दो बड़े बच्चे थे. पापा ने बताया था कि डिलीवरी के बाद अक्सर औरतों की चूत ढीली हो जाती है और पहले वाला मजा नहीं आता है.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Didi Ke Devar Se Chudne Ki Khujli

इसीलिए मैं गांड चुदाई का मजा ले रहा था आंटी की गांड मारने में मुझे बहुत मजा आया. मैं और मेरे पापा एक साथ ही झड़ गए पापा आंटी के मुंह में और मैं आंटी की गांड में चल गया. आंटी थक कर बैठ परी लेट गई हम तीनों ऐसे ही नंगे एक साथ लेटे रहे. 1 घंटे बाद पापा ने आंटी की गांड मारी, उस दिन के मैं आंटी की गांड चुदाई करने लगा और पापा चूत की चुदाई करते थे.

दोस्तों आपको ये Tera Yar Hoon Main कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……….

Leave a Reply