Horny Didi Bhai Sex – दीदी की गांड जीभ से चाट कर साफ किया


Horny Didi Bhai Sex

हाय दोस्तों कैसे हो मेरा नाम मुकेश है और मैं उत्तराखंड का रहने वाला हूं मेरी उम्र 24 साल है. यह कहानी मेरी और मेरी दीदी की है मेरी दीदी का नाम संगीता है और उसकी उम्र 21 साल की है. 21 साल की होने के बावजूद भी उसकी गांड बहुत बड़ी है उसके बूब्स वह भी बड़े-बड़े हैं. मेरे मॉम डैड जॉब करते हैं और मैं और मेरी दीदी पढ़ाई करते हैं. Horny Didi Bhai Sex

हम जिस इलाके में रहते हैं वहां पर ज्यादा मकान नहीं है खेतों के बीच में हमारा दो मंजिला मकान है. हमारे यहां से शहर भी 30 35 किलोमीटर दूरी पर है मैं और मेरी दीदी स्कूल से पढ़ाई करके आते तो मैं घर पर ही रहना पड़ता था क्योंकि यहां आजू बाजू में कोई मकान नहीं है.

इसलिए मेरा और दीदी का कोई ज्यादा दोस्त भी नहीं है दीदी मुझे उसका सच्चा दोस्त मानती है मुझसे हर बात करती है. यहां तक की मेरी दीदी को पीरियड आए तो डायपर बी मैं लाता हूं. मेरी दीदी का अंडरवियर से लेकर ब्रा तक हर चीज हम दोनों साथ में खरीदी करते हैं.

क्योंकि मॉम डैड को जॉब में से टाइम नहीं मिलता है इसलिए मैं और दीदी कोई भी चीज एक साथ खरीदने जाते हैं. मैंने आज तक दीदी के बारे में कभी गलत नहीं सोचा है हम एक अच्छे दोस्त हैं एसआई मान रहा हूं. मगर जब मेरी उम्र 17 साल और दीदी की उम्र 14 साल की तब से मैं और दीदी एक ही बेड पर सोते थे.

दीदी की अक्सर एक आदत थी वह अपनी गांड मेरे मुंह के पास रखकर उल्टा सोती थी. तब मेरे मन में दीदी के प्रत्यय कोई खराब विचार नहीं थे. अक्सर दीदी की गांड मेरे मुंह के तरफ करने से रात को कई बार दीदी की पाद की गंदा आती थी मुझे बहुत अगेन आती थी.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : भाई बहन कामुक हुए सेक्स वेब सीरीज देख के

मैंने कई बार दीदी को समझा कि दीदी आप अपनी गांड को मेरे मुंह पर तरफ ना सोवो. मगर दीदी मेरी बात को टाल देती थी और हँसकर बोलती थी मेरे प्यारे भैया आपको तो हर रात मेरी पाद सुगाउगी और हँसकर मुझे चिढ़ाती थी.

मगर जैसे-जैसे समय बीतता गया मेरी दीदी की उम्र अब 21 साल हो गई है और मेरी उम्र 24 साल हो गई. फिर भी हम दोनों एक ही बेड पर रात को सोते हैं मगर अब मांजरा कुछ और है दीदी की गांड बहुत बड़ी हो गई है और उसके गांड को देखकर मेरा लौंडा खड़ा हो जाता है.

दीदी अक्सर रात को अपनी बड़ी सी फूली हुई गांड मेरे मुंह के पास रख कर सोती है और रात को बड़ी पाद निकलती है लेकिन अब वह मुझे खुशबू जैसी लगती है. दीदी को भी पता लग गया है भैया अब मेरी गांड के पीछे पागल हो चुके हैं.

दीदी अक्षर अपनी बड़ी मटक खाती हुई गांड मुझे दिखाती है और जानबूझकर रात को मेरे को मुंह के पास अपनी गांड रखकर मेरे मुंह के ऊपर दबाती है. मैं भी नींद में अपने दीदी की सेक्सी गांड को सुगंना मुझे भी बहुत मजा आता है.

दीदी भी अक्सर रात को अपना मुंह मेरे लौंडे की ओर करके सो जाती और मेरा लौंडा खड़ा होकर दीदी के नाजुक होठों छू लेता है. दीदी भी मेरे लौंडे का मजा लेती है दीदी को अब तो वह भी पता है मैं अपने मोबाइल में पोर्न मूवी देखता हूं.

कई बार दीदी ने भी मेरे मोबाइल में से पोर्न मूवी देखी है लेकिन वह कभी मुझे कुछ नहीं बोल क्योंकि वह मुझसे बहुत प्यार करती है मैं भी दीदी को बहुत प्यार करता हूं. लेकिन एक दिन की बात है घर पर कोई नहीं था दीदी बोली भैया प्लीज मुझे शॉपिंग के ले चलो ना मैंने बोला छोटी क्या खरीदना है.

चुदाई की गरम देसी कहानी : बहन की पेंटी में हाथ डालने लगा मैं गरम होकर

ओ दीदी शर्मा का बोली अंडरवियर और ब्रा खरीदनी है मैंने बोला ठीक है छोटी शाम को चलना हम शाम को घर से निकल गए शॉपिंग के लिए. मैं बाइक चला रहा था और दीदी मेरे पीछे बैठी थी मैं बाइक को ब्रेक लगाता और दीदी के बड़े बूब्स मेरी पीठ पर चिपक जाता है.

दीदी भी दीदी भी अपना एक हाथ मेरे लोड़े पर लगाकर घुमाने लगती अब मुझे और दीदी दोनों को मजा आ रहा था. हम जैसे शहर पहुंच गए दीदी ने मेरे फेवरेट अल्लो कलर की अंडरवियर और ब्रा ली मैं बहुत खुश हो गए.

मैं छोटी को बोला चलो दीदी मैं तुझे पिज़्ज़ा खिलाता हूं हम दोनों ने पिज्जा खाया हमको शहर में ही 6:00 बज गए. अब दीदी बोली भैया बहुत लेट हो जाएंगे चलो हम अब चलते है हम दोनों निकल गए.

दीदी- भैया को मेरी ब्रा और अंडरवियर कैसी लगी.

मैं-दीदी आपका बहुत शुक्रिया तुमने मेरी पसंद की ब्रा और अंडरवियर खरीदने के लिए.

दीदी मेरे पीछे मुझे चिपक कर बोली भैया आप बहुत अच्छे हो मुझे पिज्जा भी खिलाया आपने मैं आपसे बहुत प्यार करती हूं और अपना हाथ मेरे लौंडे पर घुमाना चालू कर दिया. मैं दीदी को बोला बहुत सेक्सी हो दीदी चल झूठे कहीं के तुझे मेरे अंदर क्या सेक्स की नजर आती है सच-सच बता.

मैं बोला दीदी आप मॉम डैड को तो नहीं बताओगी ना. दीदी नहीं नहीं तू चिंता मत कर मैं कुछ नहीं बताओगे. मैं बोला दीदी आपकी बड़ी गांड मुझे बहुत पसंद है आपके बड़े बूब्स पीने का मन करता है. दीदी हंसने लगी और बोलो तुम मेरे प्यारे भैया हो और मुझसे चिपक गई.

अब हम हमारे घर से 7 किमी दूर थे और अंधेरा होने लगा था. आपको तो पता ही होगा गांव जैसे इलाकों में जल्द अंधेरा हो जाता है 7:30 बज चुके थे. तभी दीदी बोली भैया मुझे बहुत टट्टी लगी है कोई भी जहां मैं हंसने लगा और बोला पेट भर कर पिज्जा खाया है तो टट्टी नहीं लगेगी तो क्या होगा.

दीदी भैया प्लीज कहीं जाडी वाली जगह पर बाइक रोको ना. मैं बोला दीदी से छोटी सब्र कर ले घर अब 5 किलोमीटर हे दूर है. दीदी नहीं भैया मुझे रहा नहीं जा रहा है प्लीज कहीं पर बाइक रोक दो. मैं बोला ठीक है दीदी.

जहां पर बाइक रोकी और सुनसान रोड है सिंगल पट्टी है इसलिए यहां ज्यादातर कोई आता जाता नहीं है. मैंने दीदी से बोली पानी की बोतल लाई है. दीदी बोली वह धत तेरी की मैंने पानी की बोतल पिज्जा खाकर वहीं फेंक दी.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Doctor Ne Meri Wife Mujhse Chura Liya Apne Lund Se

मैं दीदी को बोला आप यही टट्टी करो मैं कहीं से पानी ढूंढता हूं. दीदी बोली नहीं भैया पानी बाद में ढूंढेंगे मुझे छोड़कर मत जाओ मुझे डर लग रहा है. मैं बोला पगली अपनी गांड कैसे साफ करेगी. दीदी प्लीज भैया मुझे पहले टट्टी करने दो बाद में देखेंगे आप मेरे साथ रोड के नीचे चलो मुझे डर लग रहा है.

मैं दीदी के साथ नीचे चला गया अब दीदी मेरे आगे थी मैं दीदी के पीछे खड़ा था. दोनों के बीच में एक ही हाथ का अंतर था दीदी ने अपनी जींस खोलें तो पिंक कलर की दीदी ने अंडर वियर पहनी थी और बड़ी गांड पर क्या सेक्सी दिख रही थी दीदी की गांड.

दीदी ने अब अपनी अंडरवेयर भी निकाल दी. मैं पहली बार दीदी की इतनी बड़ी और गोरी गांड को इतना नजदीक से देख पा रहा था. दीदी अब चौड़ी होकर नीचे बैठ गई और अपनी बड़ी सी गांड में से बू बू पाद कर टट्टी निकालने लगी.

मैं देखता ही रह गया मेरा लौंडा कड़क हो चुका था मैं पीछे बैठे बैठे दीदी के गांड के भुरे होल को देखे जा रहा था. दीदी की गांड का होल लुप लुप खुलता और टट्टी निकलता और सिकुड़ कर बंद हो जाता यह देख कर मेरा लौंडा हिचकोले खाने लगा.

दीदी ने मुझे पीछे मुड़कर देखा और हंस कर बोली क्या देख रहा है बुद्धू. मैं हड़बड़ा कर बोला दीदी कुछ नहीं. दीदी नहीं सच सच बताओ क्या देख रहे हो. मैं दीदी आपकी बड़ी गांड के छोटे से भुरे छेद को देख रहा हूं. “Horny Didi Bhai Sex”

दीदी तुझे इसमें क्या मजा मिल रहा है टट्टी ही तो कर रही हो मुजरा थोड़ी कर रही हो हंसकर दीदी बोली. दीदी बोली नीचे बैठ जा थक जाओगे खड़े-खड़े. मैं भी दीदी के थोड़ा और नजदीक जाकर बैठ गया दीदी बड़ी शरारत नजर से पीछे देख कर मुस्कुरा रही थी मैं भी मुस्कुराने लगा.

अब मुझे दीदी की गांड में से निकली हुई टट्टी की पिज्जा जैसी स्मेल आने लगी थी इसी कारण मैं बहुत उत्तेजित होने लगा. दीदी बोली भैया अब मेरी गांड को साफ कैसे करेंगे पानी यहां नहीं है. मैं बोला छोटी तुझे मैंने पहले ही बोला था कि तू टट्टी कर मैं पानी लेकर आता हूं मगर तूने मुझे साफ मना कर दिया अब मैं क्या करूं.

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Bhai Ki Kunwari Dulhan Banane Ka Idea Diya Saheli Ne

दीदी बोली भैया एक काम हो सकता है यहां पर पेड़ पौधे बहुत है यदि आप कोई बड़ा सा पौधा लेकर मेरी टट्टी से भरी हुई गांड को साफ कर दो तो मैं घर जाकर पानी से गांड को धो डालोगी. मैं बोला दीदी फिर आप बुरा मान जाओगे कि भैया ने मेरी गांड को छुआ.

दीदी बोली अरे बुद्धू मैंने कभी क्या तेरी बात का बुरा माना है आप जो चाहो वह करो प्लीज भैया लेकिन मेरी टट्टी से भरी हुई गांड को साफ कर दो. मैं बोला ठीक है दीदी आप मेरे नजदीक आ जाओ और मैं नीचे बैठा था.

और दीदी खड़ी हो गई अपनी गांड मेरे मुंह के पास लाकर थोड़ी झुक गई. मैंने एक बड़े से पौधे लेकर दीदी की गांड की होल को साफ करने लगा. अब दीदी मेरी अंगुलियों टच से थोड़ी-थोड़ी सिसकारियां लेने लगी.

मैंने धीरे से उस पौधे फेंक दिया अब दीदी बोली भैया फिर भी मुझे कुछ अलग लग रहा है तो मैं बोला क्या करूं अब दीदी. दीदी बोली प्लीज अपनी प्यारी सी दीदी की गांड को अपनी जीभ से चाट कर साफ करो ना मुझे भी अब मौके की तलाश थी.

मैंने दीदी की बड़ी गांड को पकड़कर अपनी जीभ दीदी की गांड के छेद में डाल दी और चाटने लगा क्या स्वाद था. मैं गांड चाटते हुए दीदी की चुत में भी जीभ डाल दी. दीदी सिसकारियां लेते हुए बोली हां भैया प्लीज धीरे-धीरे चाटो ना हां भैया क्या चाहते हो आप अपनी ही दीदी की गांड और चुत चाट रह. “Horny Didi Bhai Sex”

दीदी की चुत में से पानी निकलने लगा दीदी जोर-जोर से सिसकारियां भरने लगी हाआआआआआआआआ भैया आपने तो मेरी चुत का रस निकाल दिया. मैंने भी पूरी शिद्दत से अपनी दीदी की गांड और चुत दोनों एक साथ साफ कर दी ऐसा मजा ऐसा स्वाद मैंने आज तक कभी नहीं लिया था.

दीदी ने मुझे पकड़ कर खड़ा कर दिया अब मेरी आंखों में आंखें डाल कर मेरे होंठ को सूंघने लगी. और बोली आपने तो मेरी टट्टी चाट कर साफ़ कर ले और मुझे कस कर पकड़ लिया और मेरे होंठ पर उसकी लगी हुई टट्टी चाटने लगी.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Sister Ke Boobs Tight Ho Gaye Blue Film Dekh Kar

हम दोनों एक दूसरे को ऐसे ही किस करने लगे और दीदी बोली भैया अब बस करो अब जो भी करेंगे घर जाकर करेंगे. दीदी ने मेरा लौड़ा बराबर पकड़ लिया और दबा कर बोली मैं आपसे बहुत प्यार करती हूं मेरे सैया हम हम दोनों बहुत हंसने लगे और दीदी ने कपड़े पहन लिए.

अब हम घर पर जाने लगे मेरे सारे दोस्तों से निवेदन है प्लीज एक बार अपनी बीवी गर्लफ्रेंड भाभी या दीदी की गांड चाट कर और उसे सूंघने देखना बहुत ही मजा आएगा. तो दोस्तों कैसी लगी मेरी दीदी की टट्टी से भरी हुई है गांड चाटने की कहानी अब मैं आगे की कहानी में बताऊंगा की दीदी को कैसे टॉयलेट में है टट्टी करते करते चोदा.

दोस्तों आपको ये Horny Didi Bhai Sex की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..


Leave a Reply