Desi Lockdown Sex – मकान मालकिन का अकेलापन दूर किया सेक्स चैट से 1

Desi Lockdown Sex

मेरा नाम पुलकित है और मैं 26 साल का हूँ। मेरा लंड लगभग 7 इंच लम्बा और 2.5 इंच मोटा है। मैं मेरठ का रहने वाला हूँ, मैं दिल्ली में एक इंजीनियर का काम करता हूँ। यह मेरी पहली कहानी है। मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को यह कहानी पसंद आएगी। यह सच्ची कहानी है जिसमें मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैं और मेरी मकान मालकिन लोकडाउन में करीब आये। Desi Lockdown Sex

मेरी मकान मालकिन के परिवार में तीन सदस्य हैं। मेरी मकान मालकिन, उनका बेटा और बेटी, दोनों की शादी हो चुकी है, बेटी अपनी ससुराल(चंड़ीगढ़) में रहती है और बेटा अपनी पत्नी के साथ मुंबई में रहता है, वो वह किसी सॉफ्टवेयर कंपनी में जॉब करता है।

मेरी मकान मालकिन और उनके पति का तलाक हो गया था 13 साल पहले इसलिए वो दिल्ली में अकेले ही रहती है। उनकी एक शॉप भी है, गारमेंट्स की, जिसको अब वो ही संभालती है। उनका घर काफी बड़ा है, तो उन्होंने बाहर का एक कमरा किराये पे दिया हुआ हैं. मेरी एक दूर की रिश्तेदार उनके कुछ जान पहचान में है, तो जब मै यहां किराये के लिये कमरा ढूंढ रहा था.

तब उन्होंने मुझे ये कमरा बताया, अगले ही दिन मै कमरा देखने चला गया, कमरा अच्छा था. अलग बाथरूम, एक गेट बाहर की तरफ खुलता था और एक अंदर की तरफ जहां किचन था, मकान मालकिन ने बोला के किचन इस्तेमाल कर सकता हूँ, और किराया भी मेरे बजट में था. तो मैंने हा कर दी, और अलगे ही वीक अपना सामान लेकर पहुँच गया, दो तीन दिन में अग्रीमेंट भी बनवा लिया।

मेरी मकान मालकिन का नाम मोनिका है और उनकी उम्र 49 साल है लेकिन जिम, योगा की वजह से अपनी उम्र से काफी छोटी लगती है, मोनिका बहुत सुन्दर और भरे शरीर की औरत है। मोनिका के चुचे और गाँड बहुत ही मस्त है, उनको देख के किसी का भी लंड खड़ा हो जाए।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : Makan Malkin Aur Uski Garam Saheli Dono Ne Pelwaya

मोनिका काफी समझदार और खुले विचारों वाली महिला हैं, ये मुझे कुछ समय समझ आया, लगभग 3-4 महीनो में ही हमारी काफी अच्छी बोंडिंग हो गयी थी. बैसे तो खाना ज्यादातर बाहर ही खाता था, पर रविवार को घर पे होता था. तो मोनिका कह देती थी आज मेरे साथ ही खाना मैं बना रही हु तुम्हारे लिए भी तो आज बाहर मत खाना.

अब घर का खाना मिले तो कौन मना करेंगा, मैं भी हा कर देता और हम साथ में खाना खा लेते थे. खाना खाते समय बातें भी हो जाती थी, कुछ मैं कहता कुछ वो बतातीं, इसी तरह दोस्ती सी हो गयी थी हमारे बीच. वो अक्सर कह देती थी.

मोनिका: जब से तुम आये हो घर में अकेलापन नहीं लगता, नहीं तो दोनों बच्चो के जाने के बाद तो घर खाली ही हो गया था, आते ही कभी कभी है वो दोनों तो अब, सब अपने काम में बिजी किसी मेरा ख्याल ही नहीं हैं।

मैं: अरे आंटी ऐसा नहीं हैं, आजकल काम लिये तो जाना ही पड़ता हैं ना बाहर और मैं हूँ तो आपके लिये यहां(ऐसा कहकर कभी कभी आंख मर देता था)।

मोनिका: हाँ, और तुम्हे तो अब मैं जाने भी नहीं दूँगी यहां से क़भी।

मैं: आंटी जाना तो सबको पड़ता हैं कभी ना कभी।

मोनिका: चुप पागल, ऐसी बाते नहीं बोलते। (डांटकर बोलती और कभी कभी गले भी लगा लेती थी)

ऐसे ही थोड़ी मस्ती थोड़े मजाक के साथ जिंदगी बीत रही थी, फिर ये बीमारी आ गयी, कोरोना, जिससे सबकी लाइफ पर प्रभावित हुयी. और एक दिन हमारे PM टीवी पर कहा,”मित्रों, कल से 21 दिन के लिये लोकडाउन, सब कुछ बंद.” ये सुनकर सब लोग अपने अपने घर जा रहे थे पर कुछ लोग नहीं जा पाए, मैं भी उनमे से एक था.

तो जब मार्च में लोकडाउन हुआ तो सब घर में ही बंद हो गए थे। घर पर सिर्फ मैं और मेरी मोनिका ही थे। शुरू के कुछ दिन सबकुछ मस्त था न काम पर जाने की चिंता ना कोई बॉस, सारा दिन घर पे ही खाना पीना टीवी देखना मोबाइल चलाना, बस यही सब चल रहा था. मोनिका आंटी की दुकान भी बंद थी तो वो भी घर पे ही रहती थी सारा टाइम.

मैं उनकी खाना बनाने में घर के बाकि काम करने मदद कर देता था, क्युकी कुछ और था नहीं करने के लिये. पर असली परेशानिया तो तब शुरू हुई जब लोकडाउन बढ़ता रहा, तो आंटी कहती… मोनिका: अगर तू नहीं होता यह मेरे साथ, तो मैं क्या करती अकेले, घर में पड़े पड़े शायद पागल हो जाती।

मैं: अरे ऐसे कैसे पागल होने देंगे आपको, और मैंने कहा था ना मैं हूँ आपका ख्याल रखने के लिये।

और उनको हग कर लिया जिसपर उन्होंने ने मुझे नहीं रोका आराम से मेरी बाहों में खड़ी रही मेरे सीने से लगकर. मुझे लगा शायद अकेलापन महसूस कर रही हैं इसलिये आपत्ती नहीं है मेरे गले लगाने से. पर फिर जब उनके बड़े बड़े बूब्स फील हुए तो मेरे लंड में हरकत होने लगी तो मैं उनसे अलग हुआ, के कहीं उनको कुछ गलत ना लगे.

लोकडाउन जब मैं भी बोर होने लगा तो काफी कुछ किया मूवी देखी कई सारी वेब सीरीज देख डाली. गेम खेले, सेक्स कहानियां पढ़ी, पर सारा क्या तो एक एडल्ट साइट पे प्रोफाइल बना ली, मुझे वहां चैटिंग करने का बहुत शौक लग गया था. इसलिए मैं अपने कमरे में रहता और चैटिंग करता रहता, लेकिन मोनिका के लिए टाइमपास का कोई साधन नही था। 3-4 वीक तो ऐसे ही चलता रहा, फिर एक दिन मोनिका ने मेरे से पूछा…

मोनिका: तू दिन भर अपने कमरे में क्या करता रहता है? मैं दिनभर अकेले बोर हो जाती हूँ। (क्योंकि लॉकडाउन के कारण हर कोई घर पर रहता है, इसलिए मोनिका कॉलोनी की महिलाओं से मिलने के लिए बाहर नहीं जा सकती हैं, और आप सभी जानते हैं कि महिलाओं को गॉसिप कितना करना पसंद है।)

चुदाई की गरम देसी कहानी : Bhabhi Ki Hawas Tabad Tod Chudai Se Shant Kiya

मैं: आंटी कुछ खास नहीं टाइमपास करने के लिए चैटिंग कर लेता हूँ।

मोनिका: पूरा दिन किसके साथ चैटिंग करता है? अपनी गर्लफ्रेंड से??

मैं: अरे आंटी, मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं हैं।

मोनिका: (शक वाली नजरो से देखते हुये) तो किसके साथ चैटिंग करता है?

मैं: इंटेरटनेट पे किसी के भी साथ, अनजान लोगो से।

मोनिका: अच्छा.!! क्या मैं भी कर सकती हूँ मेरा भी टाइमपास हो जायेगा।

मैं: (थोड़ा हिचकते हुए) कर तो सकते हो लेकिन एक समस्या है, वो वेबसाइट् एडल्ट चैट्स की है।

मोनिका: (हैरानी और गुस्से से देखते हुए) तू अनजान लोगों से गन्दी चैट करता है? इस में क्या मज़ा आता है तुझे?

मैं: मज़ा तो बहुत आता है, समय का पता है नही लगता, अनजान लोगों से बात करने में बहुत फायदा है उसने कुछ भी बात कर सकते हो, क्योंकि वह कोई आपको जनता नही है।

मोनिका: ये बात तो सही है।(कुछ सोचते हुए) मोनिका: (थोड़ा एक्ससिटेड होकर) मुझे भी बता कैसे चैट करते है, मैं बोर हो जाती हूँ, मेरा टाइमपास भी हो जाएगा।

मैं: ठीक है अगर आप चाहते हो तो मै आपका भी अकाउंट बना दूंगा, आप अपना फोन देदो।

मोनिका ने बच्चो के जैसे खुश होकर अपना मेरे हाथ में रख दिया। मैंने मोनिका के फ़ोन में ऍप इंस्टॉल किया। मोनिका का अकाउंट बना दिया, बेसिक डिटेल्स देने के बाद एक डीपी लगा इंटरनेट से कोई साउथ की मॉडल की फोटो डाउनलोड करके.

अकाउंट बनाने के बाद एक दो रिक्वैस्ट सेंड करने के बाद खुद ही रिक्वेस्ट आने लगे फोटो को देखकर, कुछ टाइम बाद मैसेज भी आने शुरू हो गए। फिर मैंने मोनिका को उनका फ़ोन दे दिया और कहा मैं: अब आप भी आराम से चैटिंग करो, अब बोर नहीं होंगे आप, और कोई जरूरत हो तो बता देना (ये आंख मारकर स्माइल करते हुए कहा)।

मोनिका ने भी स्माइल किया और फ़ोन लेकर अपने कमरे में चली गयी। ये तो सही था मैं नहीं चाहता था मोनिका बोर हो अकेले, पर उनके बूब्स के स्पर्श की याद अभी भी लंड में हरकत कर देती थी, मैंने सोचा क्यों ना मैं भी आंटी से बात करुँ ।

तो मैंने एक फेक अकाउंट बनाया रवि के नाम से, और ऐसे ही डिटेल्स डाल दिये एक दो लोगो को ऐड करने के बाद मोनिका को रिक्वेस्ट भेज दी और वॉशरूम चला गया, वापस आकर देखा तो मोनिका ने रिक्वेस्ट अक्सेप्ट कर ली थी।( मेरे चेहरे पर अनायास ही मुस्कुराहट आ गयी ) अब मैं आराम से अपने बेड पर लेट गया और मोनिका को मैसेज किया। “Desi Lockdown Sex

रवि: हेलो.

मोनिका: हेलो.

रवि: कैसे हैं आप? आपका नाम उम्र और कहा से है आप?

मोनिका: मै अच्छी हू और आप?

रवि: मै भी अच्छा हू, और आप अपने बारे में कुछ बताइये?

मोनिका: मेरा नाम मोनिका है, उम्र 49, और मैं दिल्ली से हूँ। अब तुम अपना बताओ?

रवि: मेरा नाम रवि है, उम्र 26 और मैं बैंगलोर से हूँ। क्या करती हो तुम?

मोनिका: मेरी दुकान है ब्रा पैंटी की…। तुम क्या करते हो?

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : College Ki Bindas Ladki Ka Deewana Ho Gaya Main

रवि: मैं इंजीनियर हूं…।। आपके घर में कौन कौन है?

मोनिका: मैं और मेरा बेटा, एक बेटी भी है, दोनों की शादी हो गयी…।। तुम्हारे घर में कौन कौन है?

रवि: माँ, पापा और मैं…। आपके पति नही है?

मोनिका: मेरा तलाक हो गया था 13 साल पहले इसलिए वो मेरे साथ नही रहते।

रवि: मुझे माफ़ कीजिये आपका मन दुखाने के लिए…।

मोनिका: कोई बात नहीं अब तो आदत हो गयी हैं।

रवि: आप इस सेक्स चैट वेबसाइट पे है क्या आपको सेक्स चैट पसंद है?

मोनिका: मैं यहाँ पहली बार आयी हूं, मेरी दोस्त ने टाइमपास करने के लिए बताई हैं। मुझे नही पता कि सेक्स चैट कैसे होती है।

रवि: अगर आप हमें मौका दो तो हम सिखा देंगे आपको।

मोनिका: ओके सीखा दो।

रवि: चलो एक गेम खेलते है truth only, जिस में हम दोनों एक दूसरे से सवाल करेगे, और दूसरे वाले को सच सच जवाब देना होगा।

मोनिका: ठीक है, तुम शुरू करो।

रवि: आपका फिगर साइज क्या है?

मोनिका: 36D 32 42।

रवि: आपका फिगर कमाल का है, किसी को भी पागल कर देगा।

मोनिका: क्या तुमने सेक्स किया है?

रवि: हां बहुत बार, मेरे 5 औरतो से सेक्स संबंध रह चुके है।

मोनिका: अरे वाह!! तुम तो सेक्स के खिलाड़ी लगते हो।

रवि: जी आप कह सकते हो। रवि: शादी के पहले और बाद में कितने लोगों से सेक्स किया है?

मोनिका: शादी के पहले को किसी से नही, शादी के बाद पति से और तलाक के बाद लगभग 10 मर्दो से।

रवि: तुम तो बहुत चुदक्कड़ हो …।।

मोनिका: हाँ मुझे चुदाई बहुत पसंद है।

रवि: ये बताओ तुम्हे कैसे मर्द पसंद है?

मोनिका: जो लंबे चौड़े हो, एक दम पलंग तोड़ हो। जिसका औज़ार लंबा और मोटा हो, ताकत इतनी की मेरे से रात भर खेल सके…।। तुम्हे कैसी औरते पसंद है?

रवि: बिल्कुल तुम्हारी जैसी, जिसके मोटे मोटे चुचे और गांड हो और जिस में चुदने की आग हो…।। सेक्स में क्या क्या पसंद है आपको?

मोनिका: वैसे तो मुझे सब कुछ पसंद है लेकिन मुख सेक्स मुझे सबसे ज्यादा पसंद है।

रवि: तब तो आपको लण्ड चूसना, चुत चटवाना सब पसंद होगा?

मोनिका: हाँ ये सब पसंद है…। तुम्हे क्या पसंद है सेक्स में?

रवि: मुझे भी ये सब बहुत पसंद है और doggy पोजीशन में सेक्स करना…… क्या मैं सेक्स की देवी को देख सकता हूँ?

मोनिका: अभी मुझे जाना होगा, कुछ काम है। रात को बात करेंगे।

फिर कुछ देर बाद मोनिका आंटी ने मुझे आवाज लगाई. तो मैं बाहर आया अपने कमरे से, देखा के आंटी ने चाय बनाई है और साथ में पीने के लिए मुझे बुला रही थी .और फिर हम साथ चाय पीने लगे। मेरा सिगरेट पीने का मन हो रहा था चाय के साथ तो, मैंने मोनिका से सिगरेट पीने के लिए आज्ञा मांगी, तो आंटी बोली चल हम दोनों साथ मे सिगरेट पीते है। और हम चाय लेकर ऊपर छत पे आ गए और बातें करने लगे। “Desi Lockdown Sex

मैं: आंटी आज तो आप सुबह से ही कमरे में हो लगता है सेक्स चैट मैं मज़ा आ रहा है।

मोनिका: हाँ टाइम पास अच्छा हो रहा है, आज दिन का पता ही नही लगा।

मैं: किसी ने की सेक्स चैट आपसे?

मोनिका: मैसेज तो बहुत सारे आ रहे है लेकिन लंबी बात एक से ही हुई अभी तक…।। क्या तू भी दूसरी औरतो से ऐसी ही बात करता है, जैसे वो लड़का मेरे से कर रहा था?

मैं: आपसे कैसी चैट कर रहा था वो?

मोनिका: वो तो बहुत खुल के बात कर रहा है, तू क्या क्या पूछता है औरतो से?

मैं: बस उन्ही के बारे में कुछ भी, पहले कहा से है क्या उम्र है…। फिर अगर थोड़ी सेक्स की बातें शुरू करनी हो तो फिगर, और उनके सेक्स रिश्तो के बारे में …। बस यही सब चलता है।

मोनिका: फोटोज वगैरह मांगता है तू उनसे?

मैं: हां, लेकिन सब देती नही …। जो दे देती है उनसे बात करने में और मज़ा आता है…… उसने आपसे मांगी है क्या फोटोज?

मोनिका: हां वो मुझे अपना बदन दिखाने को कह रहा था…।। क्या ऐसी फ़ोटो दिखाना सुरक्षित हैं?

मैं: वैसे तो लड़के ऐसी है फ़ोटो देखना पसंद करते है, लेकिन ये आपके ऊपर है कि आपको भेजना है या नही। अगर आपको भेजने की इच्छा है तो अपना बिना फेस की भेज सकते हो। “Desi Lockdown Sex

ऐसे ही थोड़ी और बाते की फिर हम सिगरेट खत्म करके नीचे आ गए, आंटी रसोई में खाना बनाने लग गयी। मैं आंटी से बातें करता रहा और अचानक से मैंने पूछा की आप फ़ोटो भेजना चाहते हो उस लड़के को।

मोनिका: सोच रही हु भेज देती हूं फिर मज़ा आएगा चैट करने में।

मैं: अच्छा ठीक हैं तो रुको मै कुछ लेकर आता हूँ।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Bank Mein Sex Kiya Sexy Cashier Ke Sath

मैं अपने कमरे में गया और थोड़ी देर बाद में आंटी के लिए अपना एक शार्ट और लाल रंग का बनियान ले आया और आंटी को देकर बोला कि.. मैं: आप ये पहन कर आओ मैं आपकी फ़ोटो खींच दूँगा और एडिट करना भी बता दूँगा।

मोनिका: (थोड़ी हैरान होकर) नॉटी बॉय!! ठीक है रख दे यहां खाना खाने के बाद फोटो लेते हैं। फिर हमने साथ में खाना खाया, बर्तन करने के बाद आंटी मेरे कपडे लेकर अपने कमरे में चली गयी. और मैं हॉल में इंतेजार कर रहा था कि आंटी कपड़े पहन के आ गयी। आंटी के चुचे बाहर आने को तैयार थे और गांड इतनी मोटी की मेरे शॉर्ट्स एक दम चिपक के आ रहे थे।

आंटी को देख कर मेरे लण्ड मैं खलबली मची हुई थी। बेटा: आंटी बहुत मस्त लग रही हो, वो लड़का तो पागल ही हो जाएगा। (आंटी किसी जवान लड़की के जैसे शर्मा गयी, शर्म से उनका चेहरा लाल हो गया था, जिससे आंटी और भी ज्यादा सेक्सी लग रही थी।) फिर मैंने आंटी की फ़ोटो खींची और आंटी को बड़े शिशे के समने ले गया और बताया कि सेल्फी लेने में कैसे पोज़ देने होते है। “Desi Lockdown Sex

मोनिका: तुम मुझे करवा के बताओ ऐसे समझ नही आ रहा। मैंने आंटी को शिशे के सामने खड़ा किया और सांस लेने को बोला जिससे आंटी के चुचे और बड़े हो गए। फिर आंटी को बताया कि..

मैं: अगर गांड दिखानी है तो गांड को बाहर की तरफ निकालो। अगर नंगी फ़ोटो लेनी है और निपल नही दिखाने तो अपना हाथ निपल पे रख लो। आंटी ने नंगी फ़ोटो तो नहीं ली पर काफी सारे फोटो लिए अलग अलग पोज़ मे, फोटो लेने बाद आंटी ने गाउन पहन लिया और हम साथ में बैठकर टीवी देखने लगे।

मोनिका: क्या मैं उनकी फोटो देख सकती हूं जिसने तुझे ऐसी फोटोज भेजी है?

मैं: ठीक है आपको अगर अजीब न लगे तो देख लो।

आंटी ऐसे देखने लगी जैसे बच्चे चॉकलेट को देखते है कि उनको चाहिए तो मैंने आंटी को मोबाइल खोल के दे दिया. अब वो सारी फ़ोटो देख रही थी जिसमें हर तरह की फोटोज थी। पर आंटी कुछ नही बोली और मुझे एडिट कैसे करते है पुछने लगी। तो मैंने उनको एडिट करना सिखाया। “Desi Lockdown Sex

कुछ देर टीवी देखने के बाद हम अपने अपने रूम में चले गए। रूम में जाने के बाद मै आंटी के ऑनलाइन आने का इंतज़ार करने लगा, पर उन्होंने काफी देर लगा दी ऑनलाइन आने में, वो देर क्यु हुयी इसका पता मुझे बाद में चला, खैर उनके ऑनलाइन आने के बाद हम चैटिंग करने लगे।

रवि: आपने बताया नही क्या मैं सेक्स की देवी को देख सकता हूँ?

मोनिका: ठीक है लेकिन मैं अपना फेस तुम्हें नही दिखाऊँगी।

रवि: ठीक है। (आंटी ने शॉर्ट्स वाली फ़ोटो एडिट करके भेज दी)।

रवि: आप तो सच में माल हो…।। क्या मैं आपको नंगा देख सकता हूँ? आपके मोटे चुचे, आपकी गोल गांड।

इसी बीच मैंने अपने एकाउंट से आंटी को मैसेज किया…. मैं: आंटी आप अभी तक जागे हुए हो…। कोई मिल गया लगता है?

मोनिका: हम्म अभी थोड़ा मूड कुछ ओर है, लेकिन अच्छा लग रहा है… तेरे से बाद मे बात करती हूं।

(और आंटी ने अपने चुचे, गांड की अलग अलग फ़ोटो गलती से रवि को भेजने की बजाए मुझे भेज दी।) तब मुझे समझ आया की आंटी ऑनलाइन आने में देर क्यों हुयी थी, वो ये फोटोज ले रही थी और सच कहु तो चुचे और गांड की उनके फोटो देखकर सच में पागल हो गया था. लण्ड सलामी देने लगा था आंटी सच में सेक्स की देवी लग रही थी। “Desi Lockdown Sex

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : बहन की पेंटी में हाथ डालने लगा मैं गरम होकर

रवि: मैडम मैं इंतेजार कर रहा हूं आपके जिस्म को देखने का।

मोनिका: मैंने भेज दी है तुम देखो।

रवि: मेरे पास नही आई किसी और को भेज दी क्या?

मोनिका: (आंटी ने देखा कि फोटोज मुझे भेज दी है) मैं तुमसे बाद में बात करुँगी कुछ जरूरी काम आ गया है।

इसके बाद आंटी मेरे कमरे की तरफ आई और मुझे आवाज़ लगाई. फिर आगे क्या हुआ आंटी ने मेरे साथ क्या किया मैंने आंटी के साथ क्या किया मैं कहानी की अगले भाग में बताऊंगा. तब तक क्रेजी सेक्स स्टोरी को पढ़ते रहिये…

दोस्तों आपको ये Desi Lockdown Sex की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………………….


Leave a Reply