Desi Big Tight Ass – गर्लफ्रेंड की दीदी को मेरा लंड चाहिए था


Desi Big Tight Ass

एक दिन रूम में आते ही गर्लफ्रेंड ने मेरे आंखों पर पट्टी बांध दी और मुझे किस करने लगी और मेरे कपड़े उतार दिए और अपने कपड़े भी उतार कर सीधा मुझे बेड पर लिटा दिया और मेरा लन्ड चूसने लगी। तभी मुझे लगा कि शायद कमरे मे कोई और है, फिर मुझे अपने लन्ड पर हाथ महसूस हुआ यह हाथ लवली का नही था। मैने झट से अपनी पट्टी खोल दी। लेकिन कोई नजर नही आया। Desi Big Tight Ass

मै:अपनी पट्टी खोलेते हुए कोई रूम में है क्या क्या हो रहा है यहां लवली।

लवली:मेरे सीने पर लेटते हुए मुझे किस करती है और मेरे लन्ड को थोड़ा अपनी चूत पर घिसते हुए ,बेबी मुझे तुम्हें एक बात बतानी मेरी एक दोस्त है वो तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहती है।

मै: गुस्से में क्या बकवास है मै क्या कोई प्लेबॉय हूं।

लवली:सुनो तो बेबी सिर्फ एक बार।जिसका ये रूम है वही है उसने भी तो हमारी मदद की है।

मै:पर उसका तो पति है ही।

लवली:बाकी तुम उसी से पूछ लेना।

मै:ठीक है बुलाओ उसे।

लवली:दीदी बाहर आ जाओ।

मैने देखा की उसकी उसकी बड़ी बहन बंटी आचनक रूम से निकली । मै उसे देख कर शर्म से पानी पानी हो गया और जल्दी से लवली को दूर हटा कर अपने शरीर को वही पड़े बेडशीट से ढक लिया और अपने चेहरे को भी ढक लिया और अब मुझे रोना आ गया और मैं सुबक सुबक कर रोने लगा ।

लवली:क्या हुआ बेबी रो क्यों रहे हो।

मै कुछ नही बोला और रोता रहा । तब बंटी दीदी मेरे पास आई और मेरे सर को अपने गोद में रखते हुए मुझे चुप कराने लगी।

बंटी:अरे मेरे भाई चुप हो जा रो क्यों रहा है।

मै:आपने ऐसा क्यों किया आप जानती थी कि मैं आपको बहन मानता हूं कितनी इज्जत करता हु आपकी। मै आपके साथ ये नही कर सकता।

बंटी:मेरी मजबूरी है 3 साल हो गए मेरी शादी को लेकिन मैं मां नही बन सकी हू । मुझे तुमसे एक बच्चा चाहिए। इतना बोलकर वो रोने लगी । उन्हें रोता देख लवली भी रोने लगी। फिर मैं उठा और बेड शीट कमर में लपेट कर दोनो को चुप कराया ।

मै:क्यों क्या हुआ है आपने डॉक्टर को दिखाया क्या।

बंटी:डॉक्टर को तो नही दिखाया लेकिन मैं दिन रात ताना सुनती हूं। सिर्फ एक बार ट्राई करके देखना चाहती हू अगर मैं मां बन गई तो ठीक नही तो डॉक्टर के पास जाऊंगी।

मै:तो मैं ही क्यों आपको तो कोई भी मिल जायेगा ट्राई करने के लिए।

बंटी:लवली ने कहा कि उसे तुम जैसा ही भांजा चाहिए।

मै :लवली को गुस्से से देखते हुए, लेकिन ये गलत है।

लवली:मुझसे चिपकेते हुए बेबी मान जाओ ना प्लीज़ वो अभी भी नंगी थी । देखो हमारी तो शादी होगी नही तो मैं अपने भांजे में तुम्हे याद कर लिया करूंगी।

मै:अगर भांजी हुई तो ।

लवली: तो एकबार और ट्राई कर लेना।

बंटी:प्लीज मान जाओ ना।

मै: ओके.

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : पहली चुदाई कोई भूला नहीं पाता

फिर इतना सुनते ही दोनो मुझे किस करने लगी और गले लगने लगी। फिर मैं उठा और पहली बार बंटी को गौर से देखने लगा उसका फिगर 36_32_36 का होगा कमाल लग रही थी उसने लाल साड़ी पहने रखी थी। फिर वो खड़ी हो गई और मेरे सीने से लग गई मैने उसे अपने बाहों मे भर लिया फिर लवली ने मुझे पीछे से अपनी बांहों मे भर लिया।

फिर मैने उन्हे दूर किया और उनकी आंखों देखते हुए उनके साड़ी उतारने लगा कमाल के बूब्स थे उनके आज मेरा चूची चोदने का सपना पूरा होने वाला था मैने उनकी साड़ी उतार कर उन्हे किस करने लगा और हाथ से उनका पीठ सहलाने लगा फिर लवली ने उनकी पेटीकोट और मेरा बेडशीट कमर से हटा दिया और उसने उनका हाथ मेरे लन्ड पर रख दिया उनका हाथ कांप रहा था ।

फिर मैने उन्हे लेता दिया और ब्लाउस के बटन खोल कर उनकी ब्रा निकाल दी अब वो सिर्फ पैंटी में थी । उन्होंने शर्म से अपनी आंखे बंद कर ली । मैने उनकी आंखों को चूम लिया और उनके माथे गाल होंठ गर्दन कंधे को चूमते हुए उनके बूब्स पर जीभ रख दिया उनके बूब्स काफी बड़े थे एकदम सफेद बीच में डार्क निपल्स।

उनका निप्पल जीभ से छेरते ही वो सिहर गई । फिर मैं उसके चूंचे जोर जोर से चूसने चाटने लगा कभी इक तो कभी दूसरा । फिर लवली मेरे पास आई और एक चूची अपने मुंह में लेकर चूसने लगी । अब बंटी की दोनो चूची हम दोनो किसी बच्चों की तरह चूस रहे थे वो आह आह करते हुए हम दोनो के बालो में हाथ फेरने लगी।

अब मैं उनकी पेट को चूसते हुए उनकी पेंटी के ऊपर से उनकी चूत पर जीभ फिरा दिया और फिर पैंटी उतार दी उनकी चूत एकदम गोरी थी बिना बालों की । लवली अब मेरा लन्ड चूसने के लिए नीचे आ गई और मेरा लन्ड चूसने लगी। “Desi Big Tight Ass”

मै बंटी की चूत चाटने लगा अब वो मेरा सर अपने चूत पर जोर से दबाते हुए झड़ गई और हाफ्ने लगी। मै भी अब उपर आ गया और उसे किस करने लगा । फिर मैं उसके चूचे चूसते हुए उसे गीला कर दिया और अपना लन्ड उसके बूब्स के बीच रख कर उसके बूब्स चोदने लगा वो आह करने लगी ।

लवली:मेरे साथ तो ऐसा तुमने कभी नही किया ।

बंटी: उठते हुए क्योंकि तेरे चूचे अभी छोटे हैं। ये कहकर वो हस पड़ी।

तो लवली मुझे देखने लगी मैंने उसे गोद में बिठा लिया और उसके पुरी चूची को मुंह मे भर लिया। फिर बंटी नीचे बैठ कर मेरे लन्ड पर बूब्स रख कर अपने बूब्स चुदबाने लगी। ये देख कर लवली भी वैसे ही करने लगी और पूछा मजा आ रहा है.

मै: हा फिर कुछ देर बाद बंटी मेरे ऊपर लेट गई और मेरा लन्ड अपनी चूत में डालने लगी । लेकिन वो डाल नही पा रही थी। मै: उनको पलटते हुए उनको नीचे कर दिया और लन्ड चूत पर घिसते हुए बोला डाल दूं.

बंटी: हा डाल दे कस कर रगड़ दे.

इतना सुनते ही मैने एक झटके में अपना सुपाड़ा घुसा दिया वो चीख पड़ी लवली ने जल्दी उनके होंठ अपने होंठ से बंद कर दिया फिर कुछ देर उनकी चूची चूसने के बाद वो कुछ नॉर्मल हुई तो इस बार धीरे धीरे पूरा लन्ड उनकी चूत में सरका दिया और हल्के हल्के धक्के लगाने लगा वो आह आह ओह ओह ओह माई गोड बोलने लगी.

चुदाई की गरम देसी कहानी : पापा मुझे चोद कर बेटीचोद बन गए 1

फिर कुछ देर बाद मैं उनके ऊपर मिशनरी पोजीशन में आ गया और उसे सहलाने लगा और होंठो को चूसने लगे और धीरे धीरे धक्के लगाना जारी रखा। कुछ देर बाद उसने मेरे पीठ को पकड़ लिया और अपनी जांघो को मेरी कमर पर लपेट कर जोर जोर से चोदने को कहने लगी। मै भी अब स्पीड बढ़ा कर जोर से चोदने लगा ।

कुछ देर में वो झड़ गई तो मैं लन्ड निकालने लगा तो उसने मना कर दिया। मै ऐसे ही उसके उपर लन्ड डाले लेता रहा मैने पलट कर लवली को देखा तो वो बड़ी बड़ी आंखों कर हमें देख रही थी। इतनी जानदार चूदाई उसने पहली बार देखी थी मैंने जब भी उसे चोदा प्यार से धीरे धीरे ही चोदा था।

बंटी : ओह यार मजा आ गया कितने दिन बाद ऐसे चूदी हूं। फिर शुरू हो जा अभी लवली को मौसी बनाने वाला काम बाकी है।

मै फिर से चोदने लगा इस बार मैं पूरा लन्ड निकलता और वापस ठोक देता वो आह आह कर के रह जाती । फिर मैं और वो एक साथ झड़ गए । मै पहली बार किसी की चूत मे झड़ रहा था मुझे इतना मजा आ रहा था मै बता नही सकता। झड़ते हुए लवली हमे देख रही थी मैंने उसे भी अपने साथ गले लगा लिया । अब मैंने अपना लन्ड निकाला और बेडपर पीठ के बल लेट गया मेरे दोनो तरफ लवली और बंटी लेट गई।

बंटी:मेरे सीने पर हांथ फेरते हुए चूत में गर्म माल जाने से कितना मजा आता है न। तुम्हे कैसा लगा मेरी चूत में झड़ कर ।

मै :बहुत अच्छा लगा।

लवली: तुम कभी मेरी चूत में तो नही झड़े हमेशा बाहर निकाल लेते हो और ना कभी ऐसी जबर्दस्त चूदाई की है।

मै:हस्ते हुए उसे अपने सीने पड़ लाते हुए, अगर मैं तुम्हारे अंदर झड़ा तो तुम्हारी जगह बंटी मौसी बन जायेगी।

लवली ने शर्माते हुए अपना चेहरा मेरे सीने में छुपा लिया। फिर मैं लवली को चोदने लगा 30 मिनट बाद जब मैं जब झड़ने वाला था तो मैने लन्ड निकालना चाहा तो उसने अपने पैर मेरे कमर पर लपेट दिया।

मै:ये क्या कर रही मुझे निकलने दो.

लवली:बेबी मेरे अंदर ही निकल जाओ ना प्लीज़ ।सिर्फ एक बार।

मै:नही अभी तुम्हारी दीदी को इसकी जरूरत है।

मैंने जबरदस्ती निकाल लिया तो वो रोने लगी मैने उसे समझाया कि जब तेरे पीरियड्स खत्म होते हैं उसके अगले 3 दिन तक मैं तेरे अंदर निकलूंगा । तो वो कुछ शांत हुई । अभी मेरा झड़ा नहीं था तो मैं सीधा अपना लन्ड बंटी की चूत में डाल दिया वो जोर से चीख पड़ी ।

फिर 6 मिनट बाद मैं उसके अंदर झड़ गया। फिर हम सो गए मै उठा तो 2 बज गया था । बंटी पहले ही उठकर खाना बना रही थी फिर मैने जाकर उसको पीछे से पकड़ लिया और उसके गाउन के ऊपर से उसके चूचे मसलते हुए चूमने लगा। “Desi Big Tight Ass”

बंटी:क्या बात है कुछ देर पहले तो कह रहे थे की मै तुम्हारी बहन जैसी हूं अपनी बहन के कोई चूचे मसलता है।

मै:आप हो ही इतनी प्यारी.

बंटी:चलो अब ज्यादा तारीफ मत करो और उसे उठा कर नहा लो ।

मै:एक बात बताइए आप पिछले 2 दिन इसी रूम में थी ना।

बंटी:अपने चेहरे को मेरे सीने में छिपाते हुए हां।

मै:तो मेरे जाने के बाद क्या उस दिन ज्यादा दर्द हुआ था लवली को ।

बंटी:नही तुमने काफी प्यार से चोदा था और तुमने जो एक बार उसकी चूत सिकाई कर दी थी तो ज्यादा दर्द नही था फिर रात में मैने भी उसकी सिकाई कर दी थी।

अब लवली जाग गई तो मैने उसे उठाया और सीधा बाथ रूम में ले गया फिर मैं बंटी को लेने आया तो वो मना करने लगी मैंने उसे गोद में उठाया और बाथरूम में ले जाकर खड़ा कर दिया और शॉवर ऑन कर दिया। वो गाउन में पूरी भीग कर सेक्सी लग रही थी फिर हम दोनो ने उनका गाउन निकाल दिया और उनके चूचे चूसने लगा हम दोनो उनके एक एक चूचे चूस रहे थे।

फिर मैं अपना एक हाथ नीचे ले गया और उनकी चूत सहलाने लगा। फिर वही उनकी टांग उठा कर चोदने लगा 5 मिनट में वो झड़ गई तो अब मैने लवली को गोद में उठा कर उसकी चूत में लन्ड घुसा चोदने लगा फिर लवली भी झड़ गई तो बंटी नीचे बैठ कर अपने चूचों में मेरा लन्ड डाल चूचे चुदवाने लगी फिर लवली भी अपने छोटे छोटे चूंचे चुदवाने लगी।

फिर मैं बंटी के चूचे कस कर चोदते हुए उसके चूचों पर झड़ गया । मुझे काफी मजा आया। फिर हम नहा कर बाहर आ गए। फिर हमने खाना खाया और फिर एक बार बंटी के चूचे चूसते चूसते सो गया उठा तो 5 बजने वाले थे फिर मैं कपड़े पहन कर घर आ गया । “Desi Big Tight Ass”

अगले 6 दिन फिर वही चला। 7 वे दिन गया तो लवली के पीरियड्स आए थे तो मै सिर्फ बंटी को चोद रहा था । तो लवली जिद्द करने लगी की उसे भी करना है मैने उसे समझाया कि पीरियड्स में सेक्स नही करना चाहिए। लेकिन वो मान नही रही थी तो मैं खिज कर सिर्फ एक बार बंटी को चोद कर चला आया। अगले दिन बुलाया तो मैं नही गया मैने बोला तुम परेशान करोगी। फिर अगले दिन उसने फोन किया।

लवली: आज आ जाओ मै परेशान नही करूंगी पक्का वादा।

तो मैं पहुंच गया । मै बंटी को चोद रहा था और लवली को किस कर रहा था । फिर मैं बंटी के चूत में झड़ गया । लवली फिर मुझे सेक्स करने को बोलने लगी ।

मै:दीदी इसे समझाओ ना आप।

बंटी: यार तू न इसे पीछे से कर दे ये भी खुश हो जाएगी ।

मै:क्या बात कर रही हो इसकी गांड़ कितनी छोटी है अभी आपने कभी गान्ड मरवाई है कितना दर्द होगा इसे ।

बंटी:मैने तो नही मरवाई । तू क्या मेरी गांड़ मारना चाहता है अच्छी लगी तुझे।

मै: अरे नही ऐसी बात नहीं है शर्माते हुए।

बंटी :तो क्या मेरी गान्ड अच्छी नही है।

मै :नही आपकी गांड़ तो बहुत मस्त है।

बंटी:तो ऐसा कर तू पहले मेरी गान्ड मार ले फिर लवली ही बताएगी कि उसे अपनी गांड़ मरवानी है या नही।

मै:लेकिन दीदी.

बंटी: लेकिन वेकीन कुछ नही और वो पेट के बल लेट गई और अपनी गांड़ उठा दिया ।

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Bhabhi Ka Rang Roop Lund Ko Pareshan Karne Laga

मैने उसके चूतड़ों पर हाथ रखा और मसलने लगा। फिर मैं उसके दूध से गोरे सफेद चूतड़ों को काटने लगा वो आह आह करने लगी फिर मैने लवली को तेल लाने को कहा वो लेकर आ गई और मेरे लन्ड की मालिश करने लगी मैंने तेल लेकर उसकी गांड़ के छेद में डाल कर एक उंगली डाल दी वो चिहुंक पड़ी फिर धीरे से अपना अंगूठा फसा कर आगे पीछे करने लगा. “Desi Big Tight Ass”

कुछ देर बाद उसे मजा आने लगा तो मैने दो उंगली डाल दी फिर जब उसकी गांड़ मेरी दो उंगली की अभ्यस्त हो है तो मैने अपना सुपाड़ा उसके गान्ड में सरका दिया वो चीख पड़ी मैने लवली को उसका मुंह बंद करने को कहा और एक झटका मार कर आधा लन्ड उसकी गांड़ मे घुसा दिया ।

फिर उसे काफी दर्द होने लगा तो वो निकालने को कहने लगी मैने एक जोर झटका मार कर अपना लन्ड बाहर निकाल लिया। वो अब रोने लगी थी उसके रोने से लवली भी घबरा गई और बेड के कोने में चली गई ।

मै: देखा जब आपको इतना दर्द हो रहा है तो लवली को कितना होगा । और उसे चुप करने लगा। कुछ देर बाद वो थोड़ी शांत हुई तो । उनसे गांड़ के बल बैठा नही जा रहा था।

बंटी:ये क्या हाल कर दिया तूने मेरा कराहते हुए बैठा भी नही जा रहा ।।

मै:मैने तो कहा था पहले ही अब आपका ये हाल है तो लवली का क्या होगा । लवली की ओर देखते हुए।

लवली:नही नही मै बाद में आगे से ही करवा लूंगी और वो जल्दी से कपड़े पहनकर भाग गई। मुझे हंसी आ गई।

बंटी:हंस क्यों रहा है.

मै:अरे देखो आपका दर्द देख कर कैसे भाग गई ।

बंटी:तूने दर्द ही ऐसा दिया की जिसे देख कर कोई भी भाग जाएगी , लेकिन तू बता तूने ऐसा क्यों किया प्यार से भी तो कर सकता था , उस दिन उसकी चूत कितनी प्यार से चोदी थी तुमने उसी भरोसे पर मै तुझे गांड़ मरवाने को राजी हुई ,और तूने ये कर दिया।

मै:अरे सारी दीदी लेकिन अगर मै आपको इतना दर्द नही देता तो आज बिना गांड़ चुदवाए नही मानती वो। और आपका दर्द तो मैं 2 मिनिट में ठीक कर दूंगा । मै: लवली जरा पानी गर्म कर लाना ।

लवली पानी गर्म दे कर जल्दी से भाग गई मुझे फिर हंसी आ गई। फिर मैने उनकी गांड़ की सियाकाई कि तो थोड़ा उन्हे आराम मिला । फिर मैने उनकी दो बार चूत मारी और उनकी चूत भर दी । फिर मैने घड़ी देखी तो 2 बज गए थे तो मै एक बार कमरे में लवली को डराने के लिए गया तो वो स्कर्ट और टी शर्ट में पेट के बल लेटी हुई थी मै सीधा उसके गांड़ पर चूमने लगा वो डर कर उठ गई । “Desi Big Tight Ass”

मै: चल अब तेरी बारी 2 दिन से तू बहुत परेशान है.

लवली:अरे नही नही मुझे नही करवाना वो तो दीदी ने मुझे कहा तो मै बहक गई थी। प्लीज मुझे छोड़ दो।

मै :रिलैक्स मै कुछ नही कर रहा हूं मै मजाक कर रहा था।

और उसके किस करने लगा वो मेरी वाहों में सिमट गई फिर मैं उसे थोड़ा प्यार किया पुचकारा और कहा कि एक बार और दीदी की गांड़ सिकाई कर देना उसने ओके कहा फिर मैं चला आया । फिर अगले दिन फिर मैं गया तो लवली मेरे गले लग गई और कहा कि उसके पीरियड बंद हो गए हैं तो फिर मैंने उसकी चूत देखी तो उसमें से अभी भी ब्लीडिंग हो रही थी ।

मै :अभी बंद नही हुई है कल होगी लेकिन अगर तुम चाहो तो हम पीछे से कर सकते है ।और उसका गान्ड दबा दिया।

लवली:नही नही मै कल तक इंतजार कर लूंगी कोई बात नही ।

फिर मैने उसे थोड़ा चूमा चाटा और वो अंदर रूम में चली गई उसके रूम में जाते ही बंटी मेरे पास आ गई और मुझे बांहों में भर लिया।

मै: अब दर्द कैसा है.

बंटी:अब दर्द नही है शाम में लवली ने मेरी गांड़ की सिकाई कर दी थी ।

फिर वो मुझे किस करने लगी और मेरे कपड़े उतारने लगी मैं उसके चूचे पीने लगा फिर उसे बेड पर लिटा कर उसकी चूत चाटने लगा फिर मैने उसकी चूत में लन्ड पेल जोर जोर से चूदाई करने लगा ।

बंटी: मुझे भी गोद में उठा कर चोदो ना लवली की तरह।

मै : अरे वो फूल की तरह हल्की है आपका वजन 50 किलो से ज्यादा है फिर भी मैं कोशिश करता हूं।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Chacha Ka Musal Lund Mujhe Jabardasti Chuswaya

मैने उनके चूत में लन्ड डाले हुए ही उसे गोद में उठा लिया और उसके गान्ड पकड़ कर चोदने लगा 2 मिनट में ही मै थक गया तो वैसे ही बेड पे लेट गया अब वो मेरे ऊपर आकर मेरे लन्ड पर बैठ गई और उछल उछल कर चुदाने लगी 16 मिनट बाद मैं झडने को हुआ तो मैने उसके उसके गांड़ को जोर से दबाता हुआ उसके अंदर झड़ गया। वो अब तक 2 बार झड़ चुकी थी । मेरे गांड़ दबाने से वो चिहुंक उठी । फिर वो मेरे उपर ऐसे ही लेटी रही तो कुछ देर बाद मैं उसका गान्ड सहलाने लगा। “Desi Big Tight Ass”

बंटी:क्या बात है आज फिर गान्ड मारने का इरादा तो नही है ।

मै:अरे नही मै तो ऐसे ही प्यार से सहला रहा था।

बंटी: अगर प्यार से करोगे तो मैं दूंगी । और वो मेरे आंखों में देखते हुए किस करने लगी ।

मै:अगर तुम्हारा मन है तो फिर ठीक है आज बहुत प्यार से करूंगा।

बंटी:कल पूरा नही हुआ तो अभी तक लग रहा है गांड़ में कुछ अटका हुआ सा है।

मै: जो कुछ भी अटका है मै निकाल दूंगा.

और अब मैने उसे पलट दिया और उसके चूतड पर जीभ फिरा कर चाटने लगा दांतो से काटने भी लगा जगह निशान बना दिए कांट कर। फिर मैने तेल लेकर उसकी गांड़ की मालिश शुरू की अपने लन्ड पर तेल लगाया और सुपाड़ा आराम से उसके गान्ड मे उतार दिया.

फिर कुछ देर ऐसे ही आहिस्ते आहिस्ते आधा लन्ड घुसा दिया और आगे पीछे करने लगा फिर कुछ देर बाद उसे मजा आने लगा तो मैने थोड़ा सा और घुसा दिया । वो दर्द से बिलख गई मैने उसके चूचे दबाने शुरू किए और होंठ चूसने लगा एक हाथ मै उसके चूत पर ले गया और सहलाने लगा ।

लवली :और बचा है क्या ।

मै : हां,लेकिन अब रहने देता हूं इतना ही आगे पीछे करता हूं। और मैं उतना ही लन्ड धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा अब उसे मजा आने लगा था ।

बंटी: अब पूरा घुसा दो।

मैने एक झटका मारा तो पूरा लन्ड उसके गांड़ मे उतर चुका था। उसकी चीख निकल गई जिसे सुनकर लवली हॉल में आ गई और देख कर चली गई। फिर मैं धीरे से धक्के लगाने लगा। जब उसे मजा आने लगा तो उसने थोड़ी स्पीड बड़ाने को कहा स्पीड बड़ाते हुए मैने अपना हाथ उसकी चूत पर रखा और जोर से मसल दिया. “Desi Big Tight Ass”

वो आह आह कर के झड़ गई और बिलकुल ढीली पर गई। फिर 2 मिनट बाद उसने फिर धक्के लगाने को कहा तो मैं फिर शुरू हो गया फिर मैं कुछ देर बाद जोर जोर से धक्का लगाना शुरु किया तो उसे काफी मजा आने लगा फिर मैं झड़ने वाला था ।

मै:मै कहा निकालू।

बंटी: गान्ड में ही निकाल दे मैं तेरे गरम गरम पानी को अपने गांड़ में महसूस करना चाहती हूं।

फिर मेरे साथ वो भी झड़ गई मैं उसके ऊपर से उतर गया और उसे बाहों में भर कर किस करने लगा। फिर हम वैसे ही सो गए । इस बार मेरी नींद खुली तो बंटी मुझे किस कर रही थी 2 बजने को थे तो उसने मुझे कहा चलो नहा लो लवली खाना बना रही है आज खाकर जाना।

मैने उसे गोद में उठाया और सीधा बाथरूम में लेके गया फिर मैं लवली को बुलाने लगा तो उसने मना कर दिया फिर मैने शॉवर ऑन किया और उसे चूमने लगा उसके मम्मे चूसने लगा वो नीचे बैठ कर मेरे लन्ड को मुंह मे भर कर चूसने लगी मैं तो जैसे जन्नत में था उसने आज पहली बार मेरा लन्ड मुंह में लिया था अब उसने मेरे लन्ड को अपनी चुचियों के बीच रख कर मसलने लगी।

अब मैने उसके बूब्स दबाकर जोर जोर से चोदने लगा। फिर मैंने उसे उठाया और सीधा दीवाल से लगा कर एक बार में पूरा लन्ड उसकी चूत में उतार दिया वो दर्द से चीख उठी और मेरे पीठ पर नाखून गड़ा कर मेरे कंधे पर काट ने लगी.

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Bhabhi Aaj Na Roko Mujhe Aisa Mauka Fir Nahi Milega

फिर कुछ देर में अपना कमर हिलाने लगी फिर मैं जोर जोर से चोदने लगा 20 मिनट की चूदाई में वो 2 बार झड़ चुकी थी फिर मैं भी उसके अंदर झड़ गया । फिर हम नहाकर बाहर आए और कपड़े पहने कर खाना खाया । खाने के बाद मैं जाने लगा तो लवली ने मुझे बांहों में भर लिया। “Desi Big Tight Ass”

मै : उसे बांहों में समेटते हुए क्या हुआ जान ।

लवली:कल से मुझे प्यार करोगे ना ।

मै: उसके होंठो को चूमते हुए कहो तो आज ही कर देता हूं।

फिर मैं उसके बूब्स चूसने लगा उसके गर्दन चूसने चाटने लगा उसके कांख को चाटने लगा वो पूरी मदहोश हो गई अब मैने उसका शर्ट उतार दिया और उसके पेट को चूसने लगा फिर पीठ को चूमने लगा । अब उसको बेड पे लिटा कर उसके चूतड को चाटने लगा और काटने लगा। जिसे वो सिहर गई । फिर मैने उसकी पेंटी में हाथ डाल उसकी चूत सहलाने लगा 2 मिनट में ही वो मदहोश होकर झड़ गई और मेरे बांहों में सो गई मैने उसे सुला दिया और जाने लगा । फिर मैं बंटी को किस करके आ गया । “Desi Big Tight Ass”

दोस्तों आपको ये Desi Big Tight Ass की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे………..


Leave a Reply