Chut Ke Bal Saf – अम्मी को दुकान में पेला नाई अंकल ने


Chut Ke Bal Saf

अस्लाम वालेकुम मेरा नाम तास्किन है, यह घटना तब की है जब मैं 14 साल का था और मेरी अम्मी का नाम सगीना है उनकी उम्र उस समय 40 वर्ष थी | उन दिनों मेरे मामूजान की शादी थी जिस कारण हमें रात को ट्रैन से जाना था | तब शुक्रवार के दिन मैं अपनी अम्मी के साथ नाई की दूकान पर बाल कटवाने गया | Chut Ke Bal Saf

उस समय दोपहर के 2 बज रहे थे, और आखिरी नंबर मेरा ही था | उस दूकान में दो नाई थे एक अंकल जिनकी उम्र 53 – 54 साल होगी, और एक भैया जिनकी उम्र 25 – 26 होगी | भैया का नाम असलम था | जब असलम भाई मेरे बाल काट रहे थे तब अम्मी नाई अंकल से बोली की क्या वो उनकी बगल के बाल काट देंगे |

एक बार अम्मी ने बगल में वैक्सिंग कर ली थी जिससे उनके दाना हो गया था, उसके बाद से अम्मी पार्लर से ही बगल के बाल हटवाती थीं | लेकिन उस दिन उन्होंने नाई अंकल से ही बाल साफ़ करवाने का फैसला किया | उन दिनों ट्रिम्मर नहीं चलते थे तो नाई अंकल ने उस्तरा लिया लेकिन मम्मी के सूट की बाजू थोड़ी लम्बी थीं जिस कारण बाल ठीक से साफ़ नहीं हुए थे |

तब नाइ अंकल ने कहा की – भाभीजी आपका सूट थोड़ा ऊपर कर दो | उस दिन मेरी अम्मी ने सफ़ेद रंग का सूट पहना था | अंकल की बात सुनकर पहले तो अम्मी को थोड़ा डर लगा फिर अंकल ने दुकान अंदर से बंद कर दी |

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : मेरी चुद्दकड़ बीवी भांजे का लंड चाटने लगी

तब अम्मी ने उनका सूट एक तरफ से ऊपर किया जिससे उनकी सफ़ेद ब्रा भी अंकल को दिख रही थीं, यह देख अंकल के हाथ काँप रहे थे | क्यूंकि मेरी अम्मी के स्तन थोड़े मोटे है और अम्मी काफी गोरी है | जब अम्मी ने दूसरी तरफ से सूट ऊपर किया तो उनका सूट थोड़ा ज़्यादा ऊपर हो गया जिससे उनकी ब्रा पूरी अंकल को दिख रही थीं साथ ही अम्मी के स्तनों की लाइन भी |

 फिर भी अंकल ने किसी तरह अम्मी के बाल साफ़ किये और जब अम्मी उनका सूट नीचे कर रही थीं तब एक दम से नाई अंकल ने अम्मी के दोनों स्तन पकड़ लिए और उन्हें ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगे | ऐसी हरकत से अम्मी चौंक गयी और उन्होंने कहा – भाईसाहब यह क्या हरकत है |

तब अंकल ने अम्मी की ब्रा उनके स्तनों से ऊपर कर दी और दोनों स्तनों को चूसते हुए दबा रहे थे जिससे अम्मी उनका विरोध कर रही थीं | तब अंकल अम्मी के स्तनों को दबाते हुए उनके ऊपर ही लेट गए, क्यूंकि मेरी अम्मी दुकान में बनी सीट पर बैठी थीं |

अब अंकल अम्मी के ऊपर थे लेकिन अम्मी उनका विरोध भी कर रही थीं और आहें भी भर रही थीं जिससे थोड़ा शोर हो रहा था | तब अंकल ने अम्मी के होंठों पर अपने होंठ रख दिए, लेकिन अम्मी ने उनका मुंह दूसरी तरफ कर लिया.

चुदाई की गरम देसी कहानी : Pati Nalayak Mila To Bhaiya Ne Sex Sukh Diya

तब अंकल ने एक हाथ से अम्मी का मुंह पकड़ के खुद की तरफ घुमाया क्यूंकि मेरी अम्मी के उनके होंठ काफी गुलाबी है तो अम्मी के रसीले होंठों को देख अंकल उन्हें चूसने लगे | क्यूंकि अंकल की मूछे भी थो जो की अम्मी को चुभ रही थीं जिससे अम्मी का विरोध और बढ़ गया था |

पांच मिनट अम्मी के होंठों को चूसने के बाद अंकल उनका हाथ मेरी अम्मी की सलवार में ले गए और नाडा खोल कर सलवार को जाँघों से नीचे कर दिया | अब अंकल का हाथ अम्मी की पैंटी में था और वे अम्मी की चूत में ऊँगली डाल कर घुमा रहे थे.

अम्मी इससे उनका जोरदार विरोध कर रही थीं लेकिन अंकल की पकड़ इतनी मजबूत थीं की अम्मी कुछ कर नहीं पा रही थीं | पांच मिनट तक अंकल अम्मी की चूत में ऊँगली करते रहे तब अचानक ने अम्मी ढीली पड़ने लगी और उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया यानी अब अम्मी भी गरम हो रही थी |

यह देख अंकल अम्मी के ऊपर से उठे और उन्होंने अपनी पैंट की ज़िप खोलकर उनका खड़ा लंड बाहर निकाला | पहले उन्होंने अम्मी की पैंटी साइड में की फिर अपना लंड मेरी अम्मी की चूत में डालने लगे | अभी लंड थोड़ा सा ही अंदर गया था की अम्मी की हलकी चीख निकल गयी.

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Lund Ko Garam Karne Laga Bhabhi Ke Jism Ko Dekh

जिसके बाद अंकल ने एक झटके में ही पूरा लंड अंदर डाल दिया और तेज़ झटके मारते हुए मेरी अम्मी को चोदने लगे | अंकल ने उनकी बनियान छाती से ऊपर की जिससे उनकी बालों वाली छाती नंगी हो गयी और फिर वे मेरी अम्मी के ऊपर लेट कर उन्हें चोदने लगे |

क्यूंकि अंकल की तोंद निकली हुई थी जिससे उनका पेट अम्मी के पेट को दबा रहा था | लगभग आठ मिनट तक अम्मी को चोदने के बाद अंकल ने उनका गाड़ा वीर्य अम्मी की चूत में ही छोड़ दिया | इसके बाद अंकल अम्मी के ऊपर से हट कर साइड में बैठ गए |

अब तक असलम मेरे बाल काट चुका था, अम्मी अपने कपडे ठीक कर रही थी तब असलम ने उनकी चूत पर हाथ रख दिया और बोला – मुझे भी तो मजा दो आंटी | पहले उसने अम्मी की सलवार निकाल दी और अम्मी की पैंटी भी उतार दी जिससे अम्मी की बालों वाली चूत उसके सामने थी |

तब असलम ने उस्तरे से अम्मी की चूत के सारे बाल साफ़ कर दिए, अब अम्मी की चूत पूरी चिकनी थी | तो असलम ने उसका मुंह मेरी अम्मी की चूत पर रख दिया और भूखे कुत्ते की तरह चूत को चूसने लगा जिससे अम्मी ममममम उम्म्म्म की आवाज़ें कर रही थी |

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Mahila Ne Lund Pakda Mera Train Ki Bheed Me

पांच मिनट तक असलम ने अम्मी की चूत चाटी तब तक अम्मी 2 बार झड़ चुकी थी | इसके बाद असलम ने पैंट में से उसका खड़ा लंड निकाला और चूत की चिकनाई की वजह से उसका लंड एक बार में अंदर चला गया | जिसके बाद असलम ने चूत में धक्के मारने शुरू कर दिए साथ में वह अम्मी के स्तन भी दबा रहा था |

असलम ने करीब 10 मिनट तक अम्मी को चोदा जिसके बाद उसने भी वीर्य अम्मी की चूत में ही छोड़ दिया | इसके कुछ देर बाद हम घर वापिस आ गए क्यूंकि रात को मुझे मामूजान की शादी में जाना था, इसके बाद दो महीने तक वे मेरी अम्मी को चोदने के लिए दुकान पर बुला लेते थे | बाद उन नाइयों ने दुकान कहीं दूसरी जगह शिफ्ट कर ली तो यह सब बंद हो गया |

दोस्तों आपको ये Chut Ke Bal Saf की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे…………..


Leave a Reply