Bahan Ki Tight Chut – भैया ने दुल्हन बनने की इच्छा पूरी कर दी


Bahan Ki Tight Chut

कैसे मुझे सगे भाई ने चोदा वही बताने जा रही हूँ। और सच्चाई तो ये है की ये चुदाई ग़लतफ़हमी में हो गई है पर जो हो गया उसके लिए क्या करना अब तो कहानी बन गई ही चुद गई हूँ। एक जुलाई को ही मेरे भाई की शादी हुई है। और मेरी भाभी मेरे उम्र की ही है कद काठी भी मेरे जैसी ही ज़रा भी अंतर नहीं है। Bahan Ki Tight Chut

दोस्तों मुझे बचपन से ही दुल्हन बनने का बहुत शौक है। मैं घर में हमेशा दुल्हन दुल्हन खेलते रहती थी। और मुझे दुल्हन बनना बहुत पसंद है। मैं जब भाभी को देखि तो फिर से दुल्हन बनने का मन करने लगा। इसलिए मैं भाभी को बोली भाभी आज शाम को तो भइया पार्टी में जा रहे है मामा जी के यहाँ और शायद वो रात में नहीं लौटे.

तो आज शाम को मुझे आप दुल्हन बनाना इस बार मैं सच की बनना चाहती हूँ। आप मुझे अपना कपडे पहनना और गहने भी मैं आपका शादी की लाल साडी पहनना चाहती हूँ। आप मुझे अच्छे से सजाना। तो भाभी बोली सही है मेरा भी समय कट जाएगा क्यों की आपके भैया नहीं रहेंगे तो मुझे भी मन नहीं लगेगा।

तो दोस्तों मैं शाम को जब भैया चले गए तो मैं दुल्हन बनने के लिए तैयार हो गई और भाभी ने मुझे अपने कपडे दिए और वैसा ही सब कुछ किया आप यूँ समझिये की मैं सिर्फ सिंदूर ही नहीं लगाई थी सजी धजी थी दुलहन की तरह।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : शोभा आंटी का नशीला बदन मेरी बाँहों में

जब सज धज गई तभी भाभी के पापा आ गए। वो बिना बताये आये थे उन्होंने कहा की सरप्राइज देना था इसलिए बिना बोले आ गए। इसलिए लिए भाभी बहुत खूश हुई। और वो अपने पापा से बात करने के लिए घर के बगल में ही एक कमरे का सेट हैं जहाँ गेस्ट रहते हैं वही चली गई क्यों की रात का समय था तो कोई दिक्कत नहीं था वो वही बैठ कर बात करने लगी पापा जी से।

मैं उनका ही इंतज़ार कर रही थी। की जब वो आयेगी तभी सारे कपडे उतारूंगी मैं सेल्फी ले रही थी। फोटो खींच रही थी। तभी लाइट चली गई। मैं एक मोमबत्ती जलाई और फिर मेन गेट बंद करने के लिए चली गई ताकि कुत्ता नहीं आ जाये।

तभी भैया आ गए। वो अंदर आते ही मुझे पकड़ लिए उनके मुँह से शराब की बदबू आ रही थी। वो पिए हुए थे। शायद वो मामा के यहाँ अभी नहीं गए थे। मैं पूछी की आप तो मामा के यहाँ जानेवाले थे तो वो बोले यार जा रहा हूँ बस पंद्रह मिनट में निकलूंगा एक दोस्त ने पार्टी दे दी इसलिए लेट हो गया।

वो मुझे पकड़ लिए मैं बार बार बोल रही थी छोडो छोडो मुझे अरे मैं हु पर उन्होंने मेरी नहीं सुनी। उन्होंने मेरे मुँह को दबा दिया। और मुझे कमरे में खींचे लिए और पलंग पर लिटा दिया और साडी को ऊपर किया पेंटी खोली।

चुदाई की गरम देसी कहानी : Lockdown Me Garmai Chut Ko Dildo Se Thanda Kiya

मैं बचने की कोशिश कर रही थी पर हो नहीं पा रहा था। उन्होंने मेरे टांगो को अलग अलग कर के अपना लौड़ा निकाला और जोर से मेरी चुत में डाल दिया अब मैं चुद चुकी थी। शायद उन्हें ये नहीं पता था की मैं हूँ। उन्हें लगा की भाभी है क्यों की वो मुझे चोद रहे थे और कह रहे थे जानेमन तू रोज रोज और भी जवान होते जा रही है।

आज तेरी चूत काफी टाइट लग रही है.वो चोद रहे थे और मैं चुदवा रही थी। वो जोर जोर से धक्के दे रहे थे और उनका लौड़ा मेरी चुत में समाये जा रहा था। धीर धीरे मुझे भी अच्छा लगने लगा और मैं शांत हो गई और मैं भी चुदाई में साथ देने लगी। क्यों की चरों तरफ अन्धेरा था एक हलकी लाइट बरामदे पर जल रही थी.

उन्होंने मेरी ब्लाउज की हुक खोल दी और ब्रा को ऊपर कर दिया और मेरी चूचियां दबाने लगे. फिर वो मुझे किस करने लगे. वो मुझे बार बार चूमते रहे। दोस्तों मैं मजे से चुद रही थी। अब मैं भी निचे से धक्के दे रही थी। वो और भी ज्यादा कामुक हो रहे थे।

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : Cinema Hall Me Lund Pakda Diya Didi Ke Hatho Me

वो कह रहे थे आज तो तू भी मूड में है क्या ज्यादा दर्द नहीं हो रहा है मैं कुछ भी नहीं बोली। मैं बस चुदाई का आनंद ले रही थी। उनके मुँह से बराबर शराब की बू आ रही थी रही थी। दोस्तों उसके बाद मुझे उलटा कर दिया और पीछे से ही मेरी चूत में अपना लौड़ा पेलने लगी।

वो मेरी चूतड़ को पकड़कर जोर जोर से धक्के दे रहे थे और मैं चुद रही थी। मुझे बहुत अच्छा लग रहा था और उनका लौड़ा पूरी तरह से अंदर बाहर हो रहा था। मेरी चूत काफी गीली हो गई थी और अपनी चूचियां मैं खुद ही दबाने लगी क्यों की मैं काफी सेक्सी हो चुकी थी।

मेरे रोम रोम पागल हो रहे थे गर्म हो गई थी मैं। उन्होंने मुझे फिर से सीधा किया और इस बार और भी जोर जोर से चोदने लगे। दोस्तों अब उनकी स्पीड बढ़ गई थी और मैं तार तार हो रही थी क्यों की उनके धक्के से लौड़ा अंदर तक जा रहा था। मैं खूब मजे लेले के चुदवा रही थी।

और वो मेरी चूचियों को जोर से दबाते हुए होठ को चूमते हुए। जोर से लौड़ा अंदर करते हुए। एक आवाज जोर से निकाली अअअअअ और सारा माल मेरी चूत में डाल दिया। अब मैं शांत हो गई थी ऐसा लग रहा था कितनी थकान हो। मैं बेसुध पड़ी रही मैं अब हिलडुल भी नहीं पा रही थी। मैं शांत हो गई थी।

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Saheli Ke Hot Jija Ka Mota Lund Pasand Aa Gaya

वो तुरंत ही अपने जीन्स को ऊपर चढ़ाये और ज़िप लगाया अपना जैकेट पहने और एक बार मुझे हलकी थपकी देकर कहा सो जाना मैं मामा जी के यहाँ जा रहा हूँ सुंबह आऊंगा। मैं चुदाई के बिना नहीं रह सकता था इसलिए मैं एक बार घर आ गया ताकि तुम्हे आज भी चोद कर ही जाऊं। मैं तब भी चुप थी। वो तुरंत ही चले गए। उन्हें पता भी नहीं चला उन्होंने भाभी के जगह पर मुझे चोद दिए थे।

दोस्तों आपको ये Bahan Ki Tight Chut की कहानी मस्त लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और Whatsapp पर शेयर करे……….


Leave a Reply